सोमवार, 1 जनवरी 2018

नई इबारत

Nai ibarat
Pic Courtsey:Google
ना कागज़ पर 
ना कलम से 
लिखना है हमको 
तकदीर कर्म से 
जो बीत गई 
वो बात गई 
उठो, बढ़ो 
लेकर नया जोश
नई चुनौतियां 
नए रास्तें 
पर याद रखो 
पुराने अनुभव 
नज़र मंज़िल पर  
और दृढ इरादे 
फिर कौन रोकेगा 
सफर के रास्तें 

1 टिप्पणी: