गुरुवार, 21 दिसंबर 2017

आज की सुर्खियां


aaj ki surkhiyan

Pic Courtesy:
कल का अख़बार कौन पढ़ता है यहाँ
नई दुनिया की बात करता है जहां

कल की सीढ़ी पर पैर रखते है सभी 
आज की ऊंचाइयां छूने के लिए 

पुराने घाव रिसते है जहाँ  
नए सफर सफल होते है वहां  

अनुभव की पीठ पर सवार है जहां 
सुर्खियों में बात सिर्फ आज की होती है यहाँ?

1 टिप्पणी: